Sat. Jun 15th, 2024
social welfaresocial welfare

समाज कार्य क्या है ? परिचय, अवधारणा, अर्थ, परिभाषा, उद्देश्य, विशेषतायें 2023

नमस्कार ! प्रिय विद्यार्थियों, धन्यवाद । आप सभी ने हमारे यूटूब (YouTube) चैनल के माध्यम से अपनी जिज्ञासाओं, भावनाओं व समस्याओं के समाधान हेतु हमसे जुड़कर अपने मन की बात हमसे साझा करने के लिये और हमारे यूटूब परिवार का सदस्य बनने के लिये पुनः हम आपके आभारी हैं । आपमें से समाज कार्य के कई विद्यार्थियों ने हमसे नोट्स हेतु हमारे अनेकों यूटूब विडियो में अपना अनुरोध हम तक पहुँचाया है और इसी को ध्यान में रखते हुये हम आपको गुणवत्तापूर्ण व सरल भाषा में नोट्स हेतु यह वेबसाइट आपको समर्पित है ।

इस लेख में हम आपको समाज कार्य से सम्बंधित विभिन्न पहलुओं के बारे में समझाने का प्रयास करेगे । यह आपको समाज कार्य के बारे में बेहतर समझ विकसित करने के साथ-साथ आपको MSW या BSW की परीक्षाओं में पूछे जाने वाले प्रश्नों के सरल व स्पस्ट उत्तर लिखने में भी आपकी सहायता करेगें ।

nature of social work in India

समाज कार्य का परिचय

समाज कार्य, एक सामाजिक प्रक्रिया है जो समाज में सकारात्मक परिवर्तन लाने और समस्याओं का समाधान करने के लिए किया जाता है। इसका मुख्य उद्देश्य समाज में सामाजिक न्याय, समाजिक समरसता, सामाजिक समृद्धि, और सामाजिक समृद्धि को सुनिश्चित करना होता है। समाज कार्य समाज के विभिन्न वर्गों, समूहों, संस्कृतियों, और संस्कृति के व्यक्तियों की मदद करता है जो सामाजिक, आर्थिक, शैक्षिक, या स्वास्थ्य संबंधित समस्याओं का सामना कर रहे हैं । समाज कार्य समाज के हित में निष्पक्षता और समर्पण के साथ किया जाता है।

समाज कार्य, जिसे सामाजिक कार्य या समाज सेवा भी कहा जाता है, यह विभिन्न समाजिक समस्याओं का समाधान करने और समाज में सुधार करने का एक विशेष रूप से संगठित प्रयास है । इसमें समाज के विभिन्न वर्गों और समुदायों के लोग एक-दूसरे की मदद करने के लिए संगठित रूप से काम करते हैं । इसमें सरकारी और गैर सरकारी संगठन, स्वयंसेवी समूह और सामाजिक नेताओं के सहयोग व योगदान का भी महत्वपूर्ण योगदान होता है ।

समाज कार्य के माध्यम से समाज में दिव्यांगता, वंचितता, और लोगों को एक समान अवसर प्रदान किया जाता है और समाज में समरसता और समानता का माहौल बनाया जाता है । समाज कार्य, समाज में सुधार और समृद्धि के लिए किए जाने वाले कार्यों का संगठित प्रयास है । इन कार्यों का उद्देश्य समाज के विकास, समृद्धि, और समाज के अधिकांश व्यक्तियों के लाभ के लिए संसाधनों का उपयोग करना होता है ।

समाज कार्य की अवधारणा

समाज कार्य, वह क्रियाएं या गतिविधियां हैं जो समाज में सकारात्मक परिवर्तन लाने, समाज में समस्याओं का समाधान करने और समाज के हित में काम करने का प्रयास करती हैं। इन कार्यों का मुख्य उद्देश्य समाज में सामाजिक न्याय, समाजिक समरसता, सामाजिक समृद्धि और समाजिक समृद्धि को सुनिश्चित करना होता है। समाज कार्य के जरिए विभिन्न समस्याओं का समाधान किया जाता है और लोगों के जीवन में सकारात्मक परिवर्तन लाने का प्रयास किया जाता है।

समाज कार्य का अर्थ

समाज कार्य का अर्थ है समाज में सकारात्मक बदलाव लाने और सभी व्यक्तियों को समान अवसर देने का प्रयास करना । इसके माध्यम से समाज के सबल, कमजोर, गरीब, विपदा पीड़ित, और विभिन्न अल्पसंख्यक समुदायों को आर्थिक, सामाजिक, शैक्षिक, और स्वास्थ्य सेवाओं तक पहुंचने का प्रयास किया जाता है ।

समाज कार्य, विभिन्न सामाजिक समस्याओं का समाधान करने और समाज में सकारात्मक परिवर्तन को प्रोत्साहित करने के लिए किए जाने वाले कार्यों का समूह है। यह सभी वह गतिविधियां शामिल करता है जो समाज के लाभान्वित होने और समाज के हित में साबित होती हैं। समाज कार्य समाज में विभिन्न वर्गों, समूहों, और समाजिक लोगों की मदद करने, समाजिक न्याय के लिए लड़ने और समृद्धि को सुनिश्चित करने का एक माध्यम भी होता है ।

समाज कार्य का अर्थ है समाज के हर वर्ग के उत्थान और कल्याण के लिए सामाजिक सेवा करना । यह समाज में समस्याओं के समाधान के लिए किया जाने वाला कार्य है जिसमें विभिन्न विधियों, तकनीकों और संसाधनों का उपयोग किया जाता है । समाज कार्य के जरिए समाज के सभी वर्गों को समान अवसर और सुविधाएं मिलती हैं जो सामाजिक समरसता को संतुलित बनाता है ।

समाज कार्य क्या है

समाज कार्य एक प्रकार का व्यवसायिक या पेशेवर कार्य (Professional work) है जिसमें समाज के सभी वर्गों के उत्थान, विकास व समृद्धि हेतु विभिन्न प्रकार की सामाजिक समस्याओं के समाधान का प्रयास किया जाता है। यह एक स्वैच्छिक, सामाजिक व सकारात्मक हस्तक्षेप है जो समाज में सकारात्मकता, समरसता, सामाजिक विकास, सामाजिक समस्याओं का समाधान, लोक-कल्याण इत्यादि जैसे कार्यों हेतु किये जाते है ।

Institute of Social Works & Research dedicated to social work professionals

समाज कार्य एक पेशा है जिसके द्वारा व्यक्तियों के जीवन की गुणवत्ता को बेहतर बनाने हेतु कार्य किया जाता है। यह एक सकारात्मक हस्तक्षेप है। समाज कार्य एक प्रक्रिया है जिसके द्वारा एक व्यक्ति, समूह और समुदाय की सहायता की जाती है। वैयक्तिक रूप से लोगों के कौशल को विकसित करने में उनका मार्ग करके सहायता की जाती है। समाज कार्य एक कल्याण्कारी कार्य है। समाज कार्य के द्वारा व्यक्तियों को आत्म निर्भर बनाया जाता है जिससे वे अपनी सहायता स्वयं करने हेतु सशक्त हो सके।

समाज कार्य की परिभाषा

फ्रीडलैण्डर के अनुसार ‘‘समाज कार्य वैज्ञानिक ज्ञान एवं मानवीय संबंधों में निपुणता पर आधारित है। एक व्यवसायिक सेवा है। जो वयक्तियों की अकेले अथवा समूह में सामाजिक एवं वैयक्तिक संतोष एवं स्वतंत्रता प्राप्त करने में सहायता करती है।‘‘

प्रोफेसर राजाराम शास्त्री के अनुसार ‘‘मनोसामाजिक समस्याओं के निदान और समाधान का जो नवीनतम तरीका विकसित हुआ है। वह समाज कार्य है।‘‘

एडरसन के अनुसार ‘‘समाज कार्य लोगों के लिए व्यवसायिक सेवा है जिसका उद्देष्य निजी तथा सामुहिक रूप में उनकी सहायता करता है ताकि वे अपनी इच्छाओं एवं योग्यताओं के अनुसार तथा सामाजिक इच्छाओं और योग्यताओं के अनुरूप संतोषप्रद संबंध और जीवन स्तर प्राप्त कर सके

समाज कार्य की वैश्विक परिभाषा ‘‘सामाजिक कार्य एक अभ्यास आधारित पेशा और एक अकादमिक अनुशासन (discipline) है जो सामाजिक परिवर्तन और विकास, सामाजिक सामंजस्य और लोगों के सशक्तिकरण और मुक्ति को बढ़ावा देता है। सामाकि न्याय, मानवाधिकार, सामूहिक जिम्मेदारी और विविधता के प्रति सम्मान के सिद्धांत सामाजिक कार्य के केंद्र में हैं। सामाजिक कार्य, समाजिक विज्ञान, मानविकी और स्वदेशी ज्ञान के सिद्धांत पर आधारित, सामाजिक कार्य जीवन की चुनौतियों का समाधान करने और कल्याण को बढ़ाने के लिए लोगों और संरचनाओं को शामिल करता है।‘‘  

समाज कार्य के क्षेत्र

समाज कार्य के क्षेत्र विशाल होते हैं और इसमें विभिन्न गतिविधियां शामिल होती हैं जैसे शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार, नारी सशक्तिकरण, बच्चों के अधिकार, वृद्धावस्था की देखभाल, पर्यावरण संरक्षण, अशिक्षित बच्चों के लिए शिक्षा का संचालन, आदि। समाज कार्य का मुख्य लक्ष्य समाज में समाजिक असमानता और समस्याओं को दूर करना, लोगों को जागरूक बनाना और समाज को उन्नति की दिशा में अग्रसर करना होता है ।

समाज कार्य, सामाजिक विज्ञान का एक ऐसा महत्वपूर्ण व्यवहारिक क्षेत्र है जो समाज में सुधार, सामाजिक विकास, सामाजिक न्याय, सामाजिक शसक्तीकरण व सामाजिक समरसता की दिशा में अग्रसित होता संकाय (discipline) है । यह सामाजिक कार्य का क्षेत्र है जिसमें व्यक्ति, समूह या संगठन द्वारा विभिन्न समस्याओं का समाधान व समाज की प्रगति का प्रयास किया जाता है ।

समाज कार्य के कुछ महत्त्वपूर्ण क्षेत्र निम्नलिखित हैं;

  • सामाजिक न्याय: सोशल वर्कर्स सामाजिक न्याय के क्षेत्र में जागरूकता फैलाते हैं और सामाजिक न्याय को सुनिश्चित करने के लिए काम करते हैं। वे न्यायपूर्ण संरचनाओं, कानूनों, और संस्थानों के प्रचार-प्रसार को करते हैं, और समाज में समानता और न्याय के लिए संघर्ष करते हैं।
  • सामाजिक परिवर्तन: सोशल वर्कर्स सामाजिक परिवर्तन के क्षेत्र में काम करते हैं जो समाज में सकारात्मक परिवर्तन लाने, समाजिक संरचनाओं को समाप्त करने, और समाज में समानता और न्याय को सुनिश्चित करने के लिए काम करते हैं। उन्हें नीतियों, कानूनों, और सामाजिक कार्यक्रमों को प्रभावित करने के लिए काम करने का भी मौका मिलता है।
  • शिक्षा: शिक्षा के क्षेत्र में सोशल वर्कर्स शिक्षा के पहलुओं को समर्थन करते हैं। वे असहाय बच्चों को शिक्षा अधिग्रहण के लिए प्रोत्साहित करते हैं, शिक्षा के लिए संसाधनों की प्रदान करते हैं, और समाज में शिक्षा के महत्व को बढ़ाने के लिए काम करते हैं।
  • स्वास्थ्य के क्षेत्र में समाज कार्य: समाज कार्यकर्ता स्वास्थ्य सेवाओं के पहुंच को बढ़ाने, रोग-मुक्ति कार्यक्रमों का आयोजन करने और सामाजिक बीमा योजनाओं के लाभ का प्रचार-प्रसार करने में सहायता करते हैं।
  • मानसिक स्वास्थ्य: समाज कार्यकर्ता मानसिक स्वास्थ्य के क्षेत्र में काम करके मानसिक रोग से पीड़ित व्यक्तियों और उनके परिवारों को समर्थन प्रदान करते हैं। वे मानसिक स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करते हैं, आवश्यक सामग्री और संरचना उपलब्ध करवाते हैं, और समस्याओं के समाधान के लिए मार्गदर्शन प्रदान करते हैं।
  • बाल एवं युवा संरक्षण: बाल और युवा संरक्षण क्षेत्र में सोशल वर्कर्स बच्चों और युवाओं के विकास, शिक्षा, संरक्षण, और उन्नति के लिए काम करते हैं। वे असहाय बच्चों के लिए गहरे संसाधनों की उपलब्धि के लिए काम करते हैं और उन्हें सामाजिक, शैक्षिक, और मानसिक रूप से सशक्त बनाने में मदद करते हैं।
  • महिला सशक्तिकरण: समाज कार्यकर्ता महिलाओं के सशक्तिकरण के क्षेत्र में काम करते हैं। वे महिलाओं को जागरूक करते हैं, सामाजिक, आर्थिक, और स्वास्थ्य सेवाओं के लिए उन्हें संरचित करते हैं और उन्हें स्वायत्तता के लिए प्रोत्साहित करते हैं।
  • गरीबी उन्मूलन: सोशल वर्कर्स गरीबी उन्मूलन के क्षेत्र में अपने योजनाओं और कार्यक्रमों के माध्यम से सक्रिय रूप से काम करते हैं। उनका उद्देश्य गरीबी को कम करने, गरीब लोगों को संसाधनों तक पहुंचने में मदद करने, और उन्हें सकारात्मक समाजिक परिवर्तन के लिए प्रोत्साहित करने के लिए काम करना होता है।
  • वृद्धावस्था: वृद्धावस्था के क्षेत्र में, सोशल वर्कर्स बुढ़ापे के लोगों को समर्थन और देखभाल के लिए काम करते हैं। वे वृद्धाश्रमों, समर्थन केंद्रों, और सामाजिक संस्थानों में काम कर सकते हैं जो वृद्धावस्था के लोगों की देखभाल और उन्हें समाज में सम्मान के साथ जीने के लिए योजनाएं प्रदान करते हैं।

समाज कार्य की विशेषतायें:

समाज कार्य की प्रमुख विशेषताएं नम्नलिखित हैं:

  • यह एक पेशेवर (professional) कार्य है जो समाज के विकास हेतु कार्य करता है ।
  • यह बहु-आयामी क्षेत्र है जिसके अंतर्गत समाज के सभी वर्गों हेतु कार्य किया जाता है ।
  • समाज सेवा का उद्देश्य: समाज कार्यकर्ता समाज सेवा का मुख्य उद्देश्य रखते हैं, जो समाज के विभिन्न वर्गों, समूहों और व्यक्तियों के लाभार्थी बनते हैं ।
  • समाज में समानता: समाज कार्य में समानता की प्राथमिकता होती है, जिसमें सभी को वस्त्र, शिक्षा, स्वास्थ्य, और न्यायाधीश के अधिकारों का उचित उपयोग करने की समान अवसर मिलते हैं।
  • संवेदनशीलता: समाज कार्यकर्ता संवेदनशीलता और समर्थनशीलता का ध्यान रखते हैं, जो उन्हें दूसरों के दर्द और संघर्ष को समझने और समर्थन करने में मदद करता है।
  • संप्रेषण और प्रेरणा: समाज कार्यकर्ता लोगों को संप्रेषण और प्रेरणा देते हैं ताकि वे सकारात्मक बदलाव लाने के लिए प्रेरित हो सकें।
  • संघटना और समाजिक परिवर्तन: समाज कार्यकर्ता समाज में समाजिक परिवर्तन के लिए काम करते हैं, जो संघटना, संरचना और समाज में सकारात्मक बदलाव का मार्गदर्शन करते हैं।
  • सामाजिक संरचना का समर्थन: समाज कार्यकर्ता सामाजिक संरचनाओं को समर्थन करते हैं जो समाज में समानता, न्याय, और उन्नति को सुनिश्चित करने में मदद करते हैं।
  • समाज सेवा हेतु नेतृत्व: समाज कार्यकर्ता समाज सेवा के क्षेत्र में नेतृत्व का भाव रखते हैं जो समाज को सकारात्मक दिशा में नेतृत्व करता है।
  • संगठित रूप से काम करने की क्षमता: समाज कार्यकर्ता संगठित रूप से काम करने की क्षमता रखते हैं जो समाज सेवा के लिए आवश्यक होती है।
  • संचयित ज्ञान और कौशल: समाज कार्यकर्ता विभिन्न ज्ञान और कौशल को संचयित करते हैं जो उन्हें समाज की सेवा में सकारात्मक रूप से उपयोग करने में मदद करता है।
  • समृद्धि और उत्थान की दिशा में काम करना: समाज कार्यकर्ता समृद्धि और उत्थान की दिशा में काम करते हैं जो समाज को सकारात्मक रूप से प्रभावित करता है।
  • संप्रदाय की समर्थन: समाज कार्यकर्ता संप्रदाय को समर्थन करते हैं जो समाज में एकता और सामरस्य को सुनिश्चित करते हैं।
  • विकसित संवेदनशीलता: समाज कार्यकर्ता विकसित संवेदनशीलता को प्रोत्साहित करते हैं जो उन्हें समाज में होने वाली बदलती हुई समस्याओं को समझने की क्षमता प्रदान करता है।
  • संज्ञानशीलता और संशोधन: समाज कार्यकर्ता संज्ञानशीलता और संशोधन को प्रोत्साहित करते हैं जो समाज सेवा में सुधार के लिए नए और अधिक उपायों का अध्ययन करता है।
  • संवेदनशीलता और विवेकशीलता: समाज कार्यकर्ता संवेदनशीलता और विवेकशीलता का पालन करते हैं, जो उन्हें नैतिकता और ईमानदारी के मानकों पर चलने में मदद करता है।
  • टीम काम की क्षमता: सामाजिक कार्यकर्ता समूह में काम की क्षमता को विकसित करते हैं जो समाज सेवा के क्षेत्र में सहयोग और सहयोग प्रदान करता है।
  • इसका मुख्य उद्देश्य समाज के सभी सदस्यों की भलाई और कल्याण को सुनिश्चित करना है।
  • समाज कार्य सामाजिक समस्याओं के समाधान के लिए प्रयास करता है जैसे शिक्षा, स्वास्थ्य, पर्यावरण संरक्षण आदि।
  • यह समाज में सामाजिक समरसता और भाईचारे को बढ़ावा देने में मदद करता है।

FAQ

  1. प्रश्न: समाज कार्य क्या है? उत्तर: समाज कार्य एक समाज में समस्याओं का समाधान करने और समाज के विकास को सुनिश्चित करने का कार्य है।
  2. प्रश्न: समाज कार्य की परिभाषा क्या है? उत्तर: समाज कार्य एक पेशेवरता है जो समाज में समस्याओं के समाधान और सामाजिक परिवर्तन के लिए काम करती है।
  3. प्रश्न: समाज कार्य के उद्देश्य क्या हैं? उत्तर: समाज कार्यकर्ता समाज के विकास, समानता, न्याय, संरचना का समर्थन करते हैं और दूसरों को सकारात्मक रूप से प्रभावित करने का प्रयास करते हैं।
  4. प्रश्न: समाज कार्य में कौन-कौन से क्षेत्र शामिल होते हैं? उत्तर: बाल कल्याण, महिला सशक्तिकरण, वृद्धा संबल, मानसिक स्वास्थ्य, शिक्षा, स्वास्थ्य सेवा, गरीबी उन्मूलन, सामाजिक परिवर्तन, दिव्यांग के अधिकार आदि।
  5. प्रश्न: समाज कार्य क्यों महत्वपूर्ण है? उत्तर: समाज कार्य समाज के विकास और अधिकारों के लिए संघर्ष करता है, सामाजिक न्याय को सुनिश्चित करता है और समाज में सकारात्मक परिवर्तन लाता है।
  6. प्रश्न: समाज कार्यकर्ता कौन होते हैं? उत्तर: समाज कार्यकर्ता विभिन्न समाज सेवा क्षेत्रों में काम करने वाले पेशेवर पर्सनल होते हैं जो समाज के विकास को प्रोत्साहित करते हैं।
  7. प्रश्न: समाज कार्यकर्ता के लिए योग्यता क्या होती है? उत्तर: समाज कार्यकर्ता के लिए योग्यता में सामाजिक कार्य या सामाजिक विज्ञान में स्नातक या स्नातकोत्तर डिग्री होती है।
  8. प्रश्न: समाज कार्य में सेवा योजनाएं कैसे चलाई जाती हैं? उत्तर: समाज कार्य में सेवा योजनाएं समाज की समस्याओं का पता लगाने, समस्याओं का समाधान करने और समाज के विकास के लिए योजनाएं बनाने में मदद करती हैं।
  9. प्रश्न: समाज कार्यकर्ता के लिए संबंधित कौशल क्या होते हैं? उत्तर: समाज कार्यकर्ता के लिए संवेदनशीलता, संवेदनशीलता, संघटना क्षमता, संवेद्यता, विचारशीलता, समस्याओं के समाधान के लिए कौशल, और टीम काम की क्षमता होनी चाहिए।

By Admin